IPO क्या है, और इसमें कैसे निवेश करें

आई पी ओ क्या है

What Is IPO in Hindi

IPO एक ऐसे प्रक्रिया है, जिसके द्वारा कंपनी अपने शेयर या Stock को Public के लिए जारी करती है, इस प्रक्रिया में Company के सभी शेयर Public के पास होते है, इसके बदले में कंपनी जनता से कुछ Fund इकठ्ठा करती है। आईपीओ में सिर्फ Limited Company को ही जोड़ा जाता है। यह कंपनियां इसलिए IPO में आती है, जिससे की इनके शेयर से Public सीधे Treding कर सके, और कंपनी को फायदा हो। इसके अलावा कुछ कंपनियां अपने शेयर Bank के माध्यम से Offer करती है। हाल ही में Zomato ने भी खुद को IPO में Registered किया है, जिसके शेयर कुछ ही दिनों में Share Market में आने वाले है।

IPO Full Form in Hindi

आईपीओ का फुल फॉर्म   =  IPO – Initial Public Offering

होता है, जिसका हिंदी में मतलब  “प्रारंभिक सार्वजनिक प्रस्ताव” होता है।

I – Initial

P – Public

O – Offering

IPO Meaning in Hindi

Initial Public Offering (IPO), जब एक कंपनी सामान्य Stock को पहली बार सार्वजनिक रूप से जनता के लिए जारी करती है, तो उसे आईपीओ “सार्वजनिक प्रस्ताव” कहते है। यह Stock Share Market में आमतौर पर छोटी नई कंपनियों के द्वारा Public में जारी किये जाते है, यह कंपनियां अपना व्यापर बढ़ाने के लिए खदु को IPO में सूचीबद्ध करती है।

  • Initial – इनिशियल का मतलब होता है, शुरुआत से या प्रारम्भ से।

  • Public – पब्लिक का मतलब होता है, सार्वजानिक रूप से, या आम जनता के लिए।

  • Offering – ऑफरिंग का मतलब होता है, देना, क्योकिं जब कंपनी आईपीओ में सूचीबद्ध होती है, तो वह आपको अपने Share या Stock खरीदने के लिए देती है।

कंपनियां IPO Registration क्यों करती है

  • कोई भी कंपनी आईपीओ में इसलिए जाना पसंद करती है, क्योकिं इससे कंपनी की रेंज बढ़ती है।

  • जब कोई भी कंपनी अपने Share जनता को देती है, तो इससे कंपनी को बहुत ज्यादा पैसा मिलता है, इससे कंपनी खुद को और ज्यादा Improve कर पाती है।

  • कंपनी को आईपीओ में List होने के बाद उसकी प्रतिष्ठा और Brand Value बढ़ जाती है।

  • जब कंपनी आईपीओ में Listed हो जाती है, तो इससे जब भी वह आने वाले समय में किसी कंपनी के साथ कोई साझा Deal करती है। तो वह उसे Stock के माध्यम से Payment कर सकती है। जबकि यह Process Cash में बहुत मुश्किल होता है।

IPO के दो प्रकार होते है

Initial Public Offering, या IPO में एक कंपनी जब सार्वजानिक हो जाती है, तो वह अपनी Value बढ़ने के लिए अपने शेयर बेच देती है। आमतौर पर यह प्रक्रिया दो प्रकार से होती है, एक Fixed Price दूसरा Book Building एक Investor आईपीओ में हिस्सा लेकर आईपीओ को Publicly होने से पहले खरीद सकता है। जानते है Fixed Price, Book Building IPO क्या है।

1. Fix Price IPO

Fixed Price का मतलब होता है, की जब भी कोई कंपनी अपने IPO जारी करती है, तो उससे पहले वह Investment Bank के साथ मिलकर आईपीओ के मूल्य पर चर्चा करती है। इस Meeting में जो भी IPO का Price Fixed होता है। एक Investor उसी Price पर आईपीओ खरीद सकता है। जो मूल्य Investment Bank निर्धारित करता है।

2. Book Building IPO 

Book Building IPO का मतलब होता है, जब को कंपनी सर्वजनिक रूप से Investor को शेयरों पर 20% मूल्य बैंड प्रदान करती है। यहाँ पर Share पर बोली लगती है, और बोली बंद होने से पहले तक सभी Investor Share पर बोली लगते है। इस दौरान एक Investor को यह तय करना जरुरी होता है, की वह कितने शेयर खरीदना चाहता है, और इन शेयर के लिए कितना भुगतान कर सकता है।

यहाँ पर एक एक निश्चित मूल्य की पेशकश के विपरीत, प्रति शेयर कोई Fixed Price नहीं होता है। सबसे कम शेयर के Price को Floor Price के रूप में जाना जाता है, और सबसे ज्यादा कीमत वाले शेयर को Cap Price के रूप में जाना जाता है। तिम शेयर की कीमत निवेशक बोलियों का उपयोग करके निर्धारित की जाती है।

IPO से पैसे कैसे कमाए

आईपीओ से पैसे कमाने के लिए आपको कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना होता है, इसके बारे में आगे बात करेंगे। लेकिन यहाँ पर आपको आईपीओ से पैसे कैसे कमाए इसके लिए यह जानना जरुरी है, की यह आईपीओ कैसे काम करता है। जब भी कोई कंपनी आईपीओ में List होती है, तो उससे पहले वह Invesment Bank के साथ अपने शेयर का Pirice निर्धारित करती है।

इसके बाद कंपनी के शेयर Stok Market में जाते है। जहाँ पर यह और ज्यादा कीमत पर बिकते है। आईपीओ से पैसे कमाने के लिए आपको अच्छे Stok खरीदना जरुरी होता है। मान लीजिये आपने एक ऐसी कंपनी के Stok ख़रीदे है, जिसके Stok को की नहीं खरीद रहा है, तो ऐसे में आपका पैसा डूब सकता है। यहाँ पर आपको Profit होने की जगह पर भारी नुकसान हो सकता है। आईपीओ से पैसे कमाने के लिए बहुत सोच समझकर कंपनी के शेयर पर पैसा लगाना चाहिए।

IPO में Invest कैसे करें

आईपीओ में निवेश करना जोखिम भरा होता है। क्यकिं इसमें Invest करने वाले व्यक्ति को शेयरों के प्रति कोई भी जानकारी नहीं होती है। किस समय Stok का Price बढ़ेगा, या किस समय कम होगा। लेकिन फिर भी जो व्यक्ति पहली बार Share Market में Invest करता है, उसके लिए IPO एक वेहतर विकल्प है। अगर आप आईपीओ में निवेश करने की सोच रहे है, तो इससे पहले इसके बार में आपको पूरी जानकारी होना बहुत जरुरी है। आइये जानते है, IPO में कैसे Invest करें –

जब भी आप किसी कंपनी के आईपीओ खरीदने जाते है, तो यह खास ध्यान रखे की आपका Broker अच्छा होना चाहिए। हो सके तो आप अपने Broker के साथ मिलकर एक अच्छी Company का चुनाव करें। जिस कंपनी के IPO आप खरीद रहे है, उसे अन्य कंपनियों के साथ तुलना करके जरूर देखे।

अगर आप IPO में निवेश कर रहे है, तो पहले कुछ दिन तक अपनी चुनी हुई कंपनियों के Stok पर नजर रखें, इसके बाद ही उनमे से एक अच्छी Company के IPO में Invest करें। आईपीओ खरीदने से पहले इसकी कीमत भी देखने, और Market में दूसरे सभी Investor से कंपनी की Rating और IPO की जानकारी लेते रहें। इन कुछ महत्पूर्ण बातों को ध्यान में रखते हुए, आप IPO में Invest या Apply कर सकते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *