3 साल की मेहनत से क्लिक हुईं ये खूबसूरत तस्वीरें, हर सुबह इंतजार करता था फोटोग्राफर, फिर कैद हुआ ऐसा नजारा

टैलेंट की हमेशा कद्र की जाती है. अगर किसी में टैलेंट है तो चाहे कुछ भी हो जाए, लोगों के सामने आ जाती है. साथ ही इसमें समय चाहे जितना लगे, लेकिन एक ना एक दिन इसकी वैल्यू की जाती है. आज हम जिस फोटोग्राफर के बारे में बात करने जा रहे हैं, उसके टैलेंट की भी दाद देनी पड़ेगी. उसने जैसी तस्वीरें कैद करने की कल्पना की थी, उसे कैद कर ही लिया. भले ही इसमें उसे तीन साल का समय लग गया. जब रिजल्ट सामने आया तो उसने सबको हैरान कर दिया.

हम बात कर रहे हैं ब्राजील के फोटोग्राफर लिओनार्डो सेंस की. इन्होने तीन साल में रियो डी जेनेरो के क्रिस्ट द रिडीमर के स्टैच्यू की ऐसी तस्वीरें ली, जिसे देखने के बाद आप अपनी आंखों पर यकीन नहीं कर पाएंगे. ये इतनी खूबसूरत हैं कि किसी का भी ध्यान खींच लें. लेकिन इस मास्टरपीस को यूं ही क्लिक नहीं किया गया है. इसे खींचने में लिओनार्डो को तीन साल का समय लगा. उसने हर दिन इन तस्वीरों को क्लिक करने का इंतजार किया था. जब तीन साला बाद उसने अपना फाइनल प्रोडक्ट शेयर किया तो हर कोई हैरान रह गया.

चांद का परफेक्ट एंगल
लिओनार्डो ने स्टैच्यू की जो तस्वीर ली, उसने सबको हैरान कर दिया. 98 फ़ीट की मूर्ति के हाथों में ही चांद बॉल की तरह नजर आया. चांद के साथ अठखेलियां करती इस मूर्ति की तस्वीरों ने सबको हैरान कर दिया था. लिओनार्डो ने 2002 से फोटोग्राफी शुरू की थी. इसके बाद उसने पैशन का रुप ले लिया. बात अगर लिओनार्डो की पढ़ाई की करें, तो उसने इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग की डिग्री ले रखी है. उन्होंने इस फील्ड में दो जॉब किये लेकिन उनके पैशन ने उन्हें जॉब में टिकने नहीं दिया.

ऐसे हई शुरुआत
अपने पैशन को फॉलो करते हुए लिओनार्डो ने जॉब छोड़ दी. इसके बाद प्रकृति की तस्वीरें लेते लेते उनका जूनून बढ़ने लगा. स्टैच्यू के साथ चांद का ऐसा मिलन हर साल होता है. लेकिन लिओनार्डो हर बार इसमें असफल हो जा रहे थे. वो इस मोमेंट को कैद नहीं कर पा रहे थे. 2021 में भी वो इसे कैद नहीं कर पाए और 2022 में बादलों के बीच ये नजारा नजर ही नहीं आया. आखिरकार चार जून 2023 को लिओनार्डो ने इस मोमेंट को कैद कर लिया. इस तस्वीर ने कई अवार्ड भी जीते हैं. सुबह के 6:28 में इस नज़ारे को कैमरे में कैद किया गया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *