प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना रजिस्ट्रेशन

इस योजना की शुरुआत केंद्र सरकार ने युवाओं को ध्यान में रखकर की है। सरकार ने इस योजना से सभी युवाओं के कौशल निर्माण कर उन्हें बेहतर रोजगार के लिए तैयार करना है। कौशल विकास योजना में सभी युवाओं को उनके कौशल को निखारने के लिए विभिन्न प्रशिक्षण दिए जाएंगे।

इस प्रशिक्षण के बाद उनके प्रदर्शन के आधार पर उन्हें रोजगार के अवसर भी उपलब्ध होंगे। इस योजना से न सिर्फ रोजगार के अवसर बढ़ेंगे बल्कि युवाओं में बेरोजगारी की समस्या भी कम होगी।

इस लेख में प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना, मिलने वाला प्रशिक्षण, जरुरी पात्रताएँ और दस्तावेज, योजना के लाभ और लाभार्थी को मिलने वाले पैसो की जानकारी दी जा रही है।

Pradhan Mantri Kaushal Vikas Yojana - प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना
Pradhan Mantri Kaushal Vikas Yojana

Table of Contents

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना

पीएमकेवीवाई की शुरुआत वर्ष 2015 में कुशल भारत मिशन के तहत की गयी थी। योजना को मिनिस्ट्री ऑफ स्किल डेवलपमेंट एंड एंटरप्रेन्योरशिप नियंत्रित और नियमित करता है।

इस मंत्रालय का काम युवाओं के लिए अवसरों का निर्माण करना है, इस योजना से अभी तक बहुत से युवा रोजगार प्राप्त कर चुके हैं। इस योजना का अब तीसरा चरण भी शुरू किया जा चुका है।

पीएमकेवीवाई 3.0 के तहत 2021 की अवधि के दौरान 8 आठ लाख युवाओं को प्रशिक्षण देने का निर्णय किया गया है। इस अवधि के दौरान योजना पर 948.90 करोड़ रूपए खर्च होंगे, इस बार पीएमकेवीवाई 3.0 योजना में 300 से अधिक कौशल कोर्स उपलब्ध हैं।

सभी युवा अपनी रूचि के अनुसार इनमे प्रशिक्षण कर सकते है, ये योजना आत्मनिर्भर भारत की ओर एक महत्वपूर्ण कदम है।PMKVY 3.0 को 717 जिलों और 28 राज्यों / केंद्र शाषित प्रदेशों में लांच किया गया है, PMKVY के तहत युवाओं को न्यूनतम शुल्क में विभिन्न तकनीकी क्षेत्रों में प्रशिक्षित किया जाएगा।

इसके आधार पर उन्हें निजी अथवा सरकारी क्षेत्र में रोजगार के अवसर प्राप्त हो सकेंगे। आप की जानकारी हेतु बता दें, की इस प्रशिक्षण के उपरांत सभी युवाओं को एक सर्टिफिकेट मिलेगा जो पूरे देश में सभी जगह मान्य होगा।

ये प्रशिक्षण विभिन्न क्षेत्रों के उत्कृष्ट व्यक्तियों द्वारा दिया जाएगा जिससे उन्हें बेहतरीन प्रशिक्षण मिल सकेगा।

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना 3.0 हाईलाइट

योजना का नाम प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना
सम्बन्धित मंत्रालय कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्रालय
उद्देश्य देश में सभी बेरोजगार युवाओं को कौशल
प्रशिक्षण देकर रोजगार के अवसर देना।
योजना की शुरुआत 15 जुलाई 2015
लाभार्थी देश के बेरोजगार युवा
आधिकारिक वेबसाइट

पीएम कौशल विकास स्कीम के उद्देश्य

कौशल विकास योजना की शुरुआत करने का उद्देश्य देश के सभी बेरोजगार युवाओं को कौशल विकास प्रशिक्षण देकर उन्हें रोजगार के लिए बेहतर अवसर देना है।

सभी बेरोजगार युवाओं को 729 प्रधानमंत्री कौशल केंद्र (पीएमकेके), पैनल वाले गैर-पीएमकेके प्रशिक्षण केंद्र, कुशल भारत के तहत 200 से अधिक औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान योजना के तीसरे चरण में उम्मीदवारों को कौशल प्रशिक्षण दिया जाएगा।

इस योजना के माध्यम से देश में फैली बेरोजगारी पर अंकुश लगाया जा सकेगा, योजना से सबसे ज्यादा लाभ उन लोगों को होगा जो किन्ही कारणों से अपनी शिक्षा पूरी नहीं कर पाए।

और बेरोजगारी की मार झेल रहे हैं, योजना से सभी बेरोजगार युवाओं के कौशल को बेहतर बनाकर उन्हें विभिन्न प्रकार की तकनीकी प्रशिक्षण दिया जाएगा।

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के लाभ

  • सभी बेरोजगार युवाओं के लिए रोजगार के बेहतर अवसर खुलेंगे।

  • बेरोजगारी जैसी समस्या भी कम होगी।

  • प्रशिक्षण बिलकुल निशुल्क होगा जिसमे लाभार्थी का रहना खाना भी मुफ्त होगा।

  • जो युवा किसी कारणवश अपनी पढाई पूरी नहीं कर पाए उन्हें भी योजना से लाभ होगा।

  • प्रशिक्षण से सभी कम पढ़े युवा भी अपना कौशल विकास कर सकेंगे और नई नई विधाओं को सीखकर अपने लिए एक बेहतर रोजगार पाने के अवसर खोलेंगे।

  • आर्थिक तंगी के कारण अपना कार्य नहीं कर पा रहे लोग सरकार से लोन पा सकेंगे।

  • कंस्ट्रक्शन, इलेक्ट्रॉनिक्स, हार्डवेयर, फूड प्रोसेसिंग, फर्नीचर और फिटिंग, हैंडीक्रॉफ्ट, जेम्स ज्वेलरी और लेदर टेक्नोलॉजी जैसे करीब 40 तकनीकी क्षेत्र हैं जिनमे सभी प्रशिक्षुओं को उनकी रूचि के अनुसार प्रशिक्षण दिया जाएगा।

  • योग्यता के अनुरूप उन्हें रोजगार के अवसर भी उपलब्ध कराये जाएंगे।

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना में मुख्य बिंदु

  • शिक्षा को बीच में ही छोड़ने वाले छात्रों एवं कक्षा-10 और 12 तक ही पढ़ाई करने वाले छात्रों को ट्रेनिंग मिलेगी।

  • योजना को राष्ट्रीय कौशल विकास निगम (NSDC) के द्वारा कार्यान्वित किया जायेगा।

  • सरकार योजना की सफलता एवं उपयोगिता को सुनिश्चित करने के लिए एक अलग कौशल विकास एवं उधमिता मंत्रालय भी बनाएगी। यह मंत्रालय पूरी योजना में प्रशिक्षण की देखभाल करेगा।

  • पहले ही साल में करीबन 1 करोड़ लाभार्थियों को ट्रेनिंग का लक्ष्य प्राप्त करना है।

  • योजना की सफलता को सुनिश्चित करने के लिए केंद्रीय मंत्रिमंडल ने इसको 4 सालों के लिए स्वीकृति दी थी।

  • ट्रेनिंग लेने वाले लाभार्थियों को 8 हजार रुपयो का पुरस्कार देकर प्रोत्साहित करने का भी प्रावधान है।

  • देश के कम पढ़े-लिखे नौजवानों को कार्य करने के लायक बनाने का लक्ष्य होगा।

  • देश के असंघठित सेक्टर के श्रमिकों को कार्य कुशलता प्रदान करना है।

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के रजिस्ट्रेशन में जरुरी पात्रताएँ

  • आवेदक को भारत का नागरिक हो।

  • इस योजना में आवेदक 10 वीं या 12 वीं / ड्राप आउट भी आवेदन हेतु पात्र होंगे ।

  • आवेदनकर्ता व्यक्ति बेरोजगार होना चाहिए।

  • आवेदक को लांच हुई स्कीम में से किसी एक स्कीम के तहत 1 साल के लिए पंजीकरण कराने की आवश्यकता होगी।

  • आवेदक को प्रशिक्षण हेतु अपने चयन किये गए क्षेत्र का बेसिक जानकारी या ज्ञान होना आवश्यक है।

  • इस के अतिरिक्त आवेदक को बची हुई स्कीमों में से भी एक स्कीम का चयन करना होगा। और उस के अंतर्गत पंजीकरण करवाना होगा।

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना में जरूरी दस्तावेज

  • आवेदक का आधार कार्ड

  • योजना हेतु आवेदनकर्ता का पहचान पत्र ( वोटर आईडी , ड्राइविंग लाइसेंस इत्यादि।)

  • आवेदक का बैंक अकाउंट नंबर

  • आवेदनकर्ता का पासपोर्ट साइज फोटो

  • मोबाइल नंबर

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना में रजिस्ट्रेशन करना

स्टेप – 1

  • सबसे पहले प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना कीपर जाए।
  • होम पेज में “Quick Links” विकल्प पर क्लिक करें।
pmkvy online aawedan 1

स्टेप – 2

  • इसके बाद 4 और विकल्प खुलेंगे, जिनमे से “Skill India” विकल्प पर क्लिक करें।
  • स्क्रीन पर स्किल इंडिया का पोर्टल के 2 विकल्प दिखेंगे।
  • इसमें से “Register As A Candidate” विकल्प पर क्लिक करें।
प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना ऑनलाइन आवेदन

स्टेप – 3

  • अगले पेज में “I Want To Skill Myself “ विकल्प पर क्लिक करें।
  • पंजीकरण फॉर्म के 5 पांच सेक्शन मे से पहले में बेसिक डिटेल्स जैसे – अपना नाम, अभिभावक का नाम, जन्मतिथि, जेंडर, ईमेल, मोबाइल नंबर, शिक्षा आदि भरे।
  • दूसरे में अपनी लोकेशन डिटेल्स जैसे की जिला, राज्य व पिनकोड आदि भरें।
  • तीसरे में अपना Preferences नंबर दर्ज करें, जैसे – आप को कौन सा जॉब रोल सेक्टर में जाना है आदि।
  • चौथे में आप Associated Program (वैकल्पिक) की जानकारी भरें।

स्टेप – 4

  • पांचवे में जिसमे रूचि रखते हैं, उस विकल्प पर क्लिक करो।
  • PMKVY Training, PMKVY Training & Placements, Paid Courses और Rozgar Mela में से जिसमें भी रूचि हों, उस पर क्लिक कर दें।
  • अब घोषणा पर टिक करके “Submit” बटन क्लिक कर दें।
  • ऐसे रजिस्ट्रेशन के बाद ‘लॉगिन आईडी और पासवर्ड’ भी मिल जाएगा।
  • लॉगिन करके अपनी प्रोफाइल को अपडेट कर सकते हैं।
  • सीधे अपने नज़दीकी पीएम कौशल विकास योजना के प्रशिक्षण केंद्र में जाकर अपना पंजीकरण संख्या और पासवर्ड की मदद से ऐसा कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त सभी आवश्यक दस्तावेज वहां ले जाकर इन्हे वेरीफाई करवा सकते हैं।
  • ऐसे आवेदन पूरा हो जाएगा।

कौशल विकास योजना ट्रेनिंग सेंटर ढूँढना

  • सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट

  • होम पेज के विकल्पों में से “Find a Training Centre” पर क्लिक करें।

  • अगले पेज में पूछी गयी जानकारी भरें।

  • फिर 3 विकल्प में से अपने लिए प्रशिक्षण केंद्र ढूंढ सकते हैं।

  • कोई भी एक विकल्प चुनकर पूछी गयी जानकारी भरे और फिर “Submit” बटन क्लिक कर दें।

  • ट्रेनिंग सेंटर को ढूंढ़ने की प्रक्रिया पूरी होती है।

pmkvy find traing centre

प्लेसमेंट डेटा देखना

  • सबसे पहले आप को आधिकारिक वेबसाइट

  • होम पेज में दिख रहे विकल्पों में से “Placement” विकल्प पर क्लिक करें।

  • अगले पेज में योजना का नाम और अपने राज्य का नाम चुने।

  • आपके सामने प्लेसमेंट की डिटेल्स आ जाएगी।

pmkvy placement search

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना में ग्रीवेंस रिड्रेसल

पीएम विकास योजना 3.0 के तहत ग्रीवेंस रिड्रेसल मेकैनिज्म की स्थापना की जाएगी। जिससे संबंधित अधिकारी जिला स्तर पर शिकायतें लेंगे, और उनका निराकरण करेंगे। जबकि अनसुलझी शिकायतों को एमएसडीई द्वारा देखा जाएगा।

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना हेल्पलाइन नंबर : 1800- 123-9626

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना से जुड़े प्रश्न

प्रधानमंत्री कौशल योजना में कौन कौन से कोर्स है?

स्किल कॉउंसिल फॉर पर्सन विद डिसेबिलिटी, हॉस्पिटैलिटी तथा टूरिज्म कोर्स
टेक्सटाइल्स कोर्स, टेलीकॉम कोर्स, सिक्योरिटी सर्विस कोर्स, रबर कोर्स, रिटेल कोर्स, पावर इंडस्ट्री कोर्स।

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना में अप्लाई कैसे करें?

पीएमकेवीवाई में ऑनलाइन आवेदन के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आवेदन करना होगा।

कौशल विकास योजना में कितना पैसा मिलता है?

इस विकास योजना से लाभार्थियों को प्रशिक्षण पूर्ण होने के बाद 8,000 रूपए प्रदान किये जाते हैं।

कौशल विकास योजना से क्या लाभ है?

बेरोजगार को प्रशिक्षण मिलेगा, जिससे उन्हें रोजगार की प्राप्ति होगी। इसके अतिरिक्त बेरोजगारी की समस्या भी खत्म होगी, साथ ही युवाओं की प्रतिभा को और बेहतर बनाया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *