जब 106 सवारियों से भरी ट्रैन रहस्यमयी तरीके से गायब हो गयी

Truth Behind the Zenneti Time Traveler Train

 हमारी दुनिया रहस्यों से भरी हुई है और ऐसी बहुत ही रहस्यमयी घटनाएं भी घट चुकी है जिनके रहस्य से कभी पर्दा नहीं उठ पाया। ऐसी ही एक घटना है 1911 में Zanneti Train के साथ हुई जिसमें ट्रैन अचानक से एक गुफा के अंदर गायब हो गई और ट्रेन में मौजूद 104 लोग भी गायब हो गए और इस ट्रेन और इन लोगों का कोई पता नहीं चल पाया, पर बहुत से लोगों का कहना था कि व समय यात्रा ( Time Travel ) करके वक्त में पीछे चले गये।

Zenneti Train Story in Hindi | जब 106 सवारियों से भरी ट्रैन रहस्यमयी तरीके से गायब हो गयी

Photo credit – Infobush.com

Fully Story

यह घटना 1911 की रोम की है, जब विलासिता(Luxury) ट्रैन बनाने वाली इटालियन ट्रैन कंपनी Zanneti ने एक ट्रेन तैयार किया था और विलासिता होने के कारण ट्रैन के अंदर सभी तरह ही सुविधाएं मौजूद थी और इसे उस समय की सबसे बेहतरीन तकनीक से बनाया गया था, इस ट्रैन में 3 डिब्बे मौजूद थे। ट्रैन की पहली यात्रा के लिए 106 लोगों को चुना गया जो अंतिम स्टेशन तक जाएंगे और वापिस अपने स्टेशन मे आ जाएंगे। यह एक ट्रायल यात्रा थी इसीलिए इन सभी को मुफ्त में टिकट दिया गया और सभी के लिए ट्रेन में खाने पीने की व्यवस्था की गई ताकि बाद मे बाकी के लोगों के बीच भी उनका ट्रैन लोकप्रिय हो।

14 जुलाई 1911 को इस ट्रेन ने अपनी यात्रा शुरू की और सुंदर पहाड़ियों से होकर गुजरने लगी। यात्रा के दौरान ट्रैन को Lombardy के पहाड़ में बने सुरँग से गुजरना था जो कि आधा किलोमीटर लंबी थी, लेकिन उस समय की सबसे लंबी सुरंगों में से एक थी। ट्रैन जब उस सुरँग से गुजरी तो बहुत से लोगों ने ट्रेन को अंदर जाते देखा था लेकिन यह ट्रेन कभी बाहर नहीं आयी।

इन घटना के बाद रेल के कर्मचारियों और पुलिस ने इस ट्रेन की काफी छानबीन की लेकिन इसका कोई भी नामोनिशान नहीं पाया। इस ट्रेन को किसी ने भी सुरँग से बाहर आते हुए नहीं देखा था और खास बात तो यह थी कि यह सुरँग सिर्फ आधा किलोमीटर लम्बा था और अंदर कोई दूसरा रास्ता भी नहीं था।

पर जांच के दौरान 2 लोग मिले जिनका दावा था कि वे ट्रैन के यात्रियों का ही हिस्सा थे। इन दोनों ने एक इटालियन प्रेस में दिये इंटरव्यू में बताया कि ट्रेन सुरँग में जाते ही काफी धीमी हो गयी और धीरे धीरे सफेद धुँए के बादल में गायब होने लगी, और ये दोनों व्यक्ति घबराकर ट्रैन से नीचे कूद गए जिसके बाद उन्हें कुछ भी याद नहीं है और ट्रेन का कोई सबूत नहीं मिल पाया।

इस घटना के बाद रेल यातायात अधिकारियों ने इस सुरँग को हमेशा के लिए बंद करने का फैसला लिया, और द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान प्लेन से इसके ऊपर बम गिराकर इसे नष्ट किया गया।

   लेकिन इस घटना की कहानी यहीं खत्म नहीं होती बल्कि इससे जुड़े इतिहास के ऐसे बहुत से ऐसे दावे है जो इसे और भी रहस्यमयी बनाते हैं। जैसे कि प्राचीन लेख में Modena के भिक्षुओं द्वारा मध्यकालीन युग में जर्मनी, रोमानिया, इटली जैसे देशों में ट्रैन जैसी चीज को देखने का दावा मिलता है जबकि उस वक्त में यातायात का साधन सिर्फ घोड़ा होता था।

इसके अलावा ट्रैन में मौजूद किसी यात्री  के रिश्तेदारों में से एक जब पुराने पुरालेखों को देख रहा तब तो उसे 1840 का एक अस्पताल का रिकॉर्ड मिला, और उस रिकॉर्ड के अनुसार एक दिन एक साथ 104 लोग उनके अस्पताल में भर्ती हुए और सभी लोग अजीबोगरीब कपड़ों में थे और अजीबोगरीब हरकतें कर रहे थे। भर्ती किये गए मरीजों में से किसी एक के पास एक सिगरेट का डिब्बा था जिसमे 1907 लिखा हुआ था, सिगरेट का डिब्बा अभी भी एक मैक्सिकन संग्रहालय में संरक्षित है। इसके बाद यह माना जाने लगा कि ये 104 लोग Zanneti ट्रैन से गायब हुए लोग ही हैं जो समय यात्रा में फंस कर 1840 में पहुंच गए थे।

एक और घटना में 29 अक्टूबर 1955 को यूक्रेन के छोटे से शहर Zavalichi में ड्यूटी पर मौजूद एक सिगनलमेन ने एक पुराने से ट्रेन को पटरी पर धीरे धीरे चलते देखा जबकि उस समय किसी भी ट्रेन के चलने का समय उनकी पुस्तक में मौजूद नहीं था। सिग्नलमेन के अनुसार इस ट्रेन का इंजन Zanneti कंपनी का था और इसमें कोई भी ड्राइवर मौजूद नहीं था और ट्रैन के डिब्बों की खिड़कियों में पर्दे लगे हुए थे। पर कुछ समय बाद यह ट्रेन अचानक से गायब हो गया।

Zenneti Train Story in Hindi | जब 106 सवारियों से भरी ट्रैन रहस्यमयी तरीके से गायब हो गयी

 – Infobush.com

इस घटना से जुड़े ये सभी दावे तो यही बताते है कि Zanneti Train उस गुफा से समय यात्रा करते हुए वक्त में पीछे चली गयी और ट्रेन में मौजूद सभी यात्री समय यात्रा में ही फस गए, जबकि कुछ लोगों के अनुसार यह पैरेलल यूनिवर्स की घटना है। Zanneti Train की घटना कुछ लोगों के अनुसार तो सच्ची घटना है औऱ वे इसे समय यात्रा से जोड़कर देखते हैं, लेकिन कुछ लोगों के अनुसार ये सिर्फ एक मनगढ़ंत कहानी है।

True or Fake ?

Zanneti Train की घटना पर संदेह करने का सबसे बड़ा कारण तो ये है कि इंटरनेट पर इससे जुड़े सभी लेख/आर्टिकल्स बस कुछ साल पुराने ही है जबकि 100 से अधिक लोगों का इस तरह रहस्यमयी तरीके से गायब हो जाना मानव इतिहास की सबसे बड़ी घटनाओं में से एक होती और इसके 1911 से ही बहुत से लेख इंटरनेट पर मौजूद होते।

इसके अलावा Zanneti ट्रैन से जुड़े अन्य दावे जैसे कि Modena भिक्षुओं का ट्रैन को देखना, 1840 में एक साथ 104 लोगों का अस्पताल में भर्ती होना और मेक्सिकन संग्रहालय में सिगरेट के डिब्बे का रखा होना इन सभी दावों का भी इंटरनेट पर कोई लेख नहीं मिलता।

अगर बात करें समय यात्रा की तो विज्ञान के अनुसार यह सम्भव है लेकिन विज्ञान के अनुसार इंसानो द्वारा समय यात्रा की तकनीक खोज करने में अभी सालों लग सकते है और Zanneti Train का एक गुफा से अचानक समय यात्रा करने वाली बात नामुमकिन सी लगती है।

    अब Zanneti Train की इस घटना पर विश्वास करना या न करना लोगों के ऊपर है और हमारे द्वारा दिये गए ये निष्कर्ष इंटरनेट पर मौजूद सबूतों के आधार पर है। लेकिन बहुत से लोगों की राय अलग हो सकती है और हो सकता है Zanneti ट्रैन की इस घटना के बारे में इंटरनेट से हटके और ज्यादा जानकारी पता हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *