जब घूमती रहती है धरती, तो हम गिरते क्‍यों नहीं? सीधा है सवाल, पर 90 फीसदी लोग नहीं जानते होंगे जवाब

हम जिस धरती पर रहते हैं, उसके बारे में हमें बहुत कुछ पता है. इसकी खूबसूरती और हरी-भरी वादियों के अलावा यहां मौजूद एक से बढ़कर एक चीज़ें ऐसी हैं, जिनके रहस्य के बारे में हमें आमतौर पर पता नहीं होता. कुछ खगोलीय घटनाएं भी ऐसी होती हैं, जिसके पीछे की वजह विज्ञान भले ही जान ले लेकिन हमारे लिए वो चमत्कार जैसी ही हैं. मसलन धरती गोल है और ये लगातार घूमती रहती है लेकिन हमें कभी भी महसूस क्यों नहीं होता?

आपने इस सवाल के बारे में कभी न कभी सोचा ज़रूर होगा और हो सकता है कि इसका जवाब भी आपको विज्ञान की किताबों में मिला होगा. हालांकि हर वक्त इस बारे में शायद ही किसी को याद रहता होगा. यही वजह है कि इसका जवाब सोचने के लिए आपको सिर खुजाना पड़ जाता है. चलिए आपको बताते हैं कि आखिर वो क्या वजह है कि धरती अपनी धुरी पर लगातार घूमती रहती, फिर भी अगर हम अपनी जगह पर स्थिर रहते हैं और गिरते नहीं.

धरती घूमती है, पर हम क्यों नहीं?
इस सवाल का जवाब जानने के लिए आपको ज़रा भौतिकशास्त्र के बारे में समझना होगा. ऑनलाइन प्लेटफॉर्म कोरा पर जब ये सवाल लोगों ने पूछा तो इसका जवाब बहुत से लोगों ने दिया. बचपन में ही पढ़ाए जाने वाला स्थिरता का नियम यहां भी लागू होता है. दरअसल हमारी धरती 24 घंटे अपनी धुरी पर घूमती रहती है. धरती की रफ्तार 1600 किलोमीटर प्रति घंटा होती है. इसके एक चक्कर में ही दिन और रात होते हैं. हम इसे महसूस नहीं कर पाते हैं क्योंकि धरती के साथ-साथ उसी रफ्तार से हम भी घूम रहे होते हैं. हमारे आस-पास का वातावरण और सब कुछ घूमता है और हमारा शरीर इस रफ्तार का आदी हो जाता है.

कुछ यूं हम समझ पाएंगे रफ्तार
चूंकि पृथ्वी की गति नियत है यानि ये एक ही रफ्तार से घूमती है, इसलिए हम महसूस नहीं कर पाते. अगर ये कहीं अपनी रफ्तार बढ़ाए या घटाए या फिर कहीं पृथ्वी रुक जाए, तब हमें ज़ोर का झटका लगेगा और हम समझ पाएंगे कि हम सफर में थे. ठीक उसी तरह से, जैसे हम हम किसी फ्लाइट पर 800 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से जा रहे होते हैं और हमें पता नहीं चलता लेकिन जब ये नीचे आता है और रुकता है, तब हमें जर्क यानि झटका लगता है. यात्रा में भी शरीर के नीचे का हिस्सा तो सेटल होता है लेकिन ऊपरी हिस्से को तेज़ झटका लगता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *